University of Glasgow ने एक ऐसा रोबोट तैयार किया है जिसके अंदर स्किन भी लगाई गई है।

University of Glasgow ने एक ऐसा रोबोट तैयार किया है जिसके अंदर स्किन भी लगाई गई है।

अब आप कहोगे कि आर्टिफिशियल स्किन तो हर रोबोट में लगाई जा रही है जैसे सोफिया में लगाया गया था और इसी तरीके के और रोबोट में भी लगाया गया था।

जो देखने में काफी ज्यादा रीयल लगते है लेकिन इनकी स्किन को ना सेंसिटिविटी महसूस होता है और ना दर्द होता है।

जो देखने में काफी ज्यादा रीयल लगते है लेकिन इनकी स्किन को ना सेंसिटिविटी महसूस होता है और ना दर्द होता है।

लेकिन इस यूनिवर्सिटी ने एक ऐसा रोबोट तैयार किया है जो दर्द भी महसूस कर सकता है

लेकिन इस यूनिवर्सिटी ने एक ऐसा रोबोट तैयार किया है जो दर्द भी महसूस कर सकता है

दरअसल इसमें आर्टिफिशियल टैक्टिकल न्यूरल पाथवे लगाया गया जिसकी वजह से यह फील कर पाती है

दरअसल इसमें आर्टिफिशियल टैक्टिकल न्यूरल पाथवे लगाया गया जिसकी वजह से यह फील कर पाती है

कोई चीज उसको टच कर रही है जिसमे फोर्स काफी ज्यादा होता है उसमें उसको दर्द भी महसूस होता है ।