2022 Life skill and personality development in hindi | पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट कैसे करें

जीवन कौशल और व्यक्तित्व विकास (life skill and personality development ) आज हम बात करने जा रहे हैं जीवन कौशल ( Life Skill) और व्यक्तित्व विकास ( Personality Development के बारे में । हमारे जीवन में व्यक्तित्व विकास का इतना महत्व क्यों है ? जीवन कौशल यानी हर इंसान के अंदर कोई ना कोई कौशल अवश्य होता है। बस इंसान को अपने अंदर के हुनर को जानने और पहचानने की जरूरत है। अपने कौशल के आधार पर ही वह अपनी एक अलग पहचान बना सकता है। वह जीवन में धन , दौलत और शोहरत सब कुछ हासिल कर सकता है।

life skill and personality development in hindi
life skill and personality development in hindi

इंसान का कौशल ही उसे जीवन जीने का मकसद देता है और उसके जीवन की राह को भी आसान कर देता है। भगवान ने जब इंसान की रचना की तब उसके अंदर कोई ना कोई हुनर जरूर डाला होता है क्योंकि इंसान का हुनर ही उसे जीवन में आने वाली चुनौतियों के लिए उसे सजग करता है। उसे जीवन का असली महत्व बताता है। इस तरह से हम कह सकते हैं कि जीवन कौशल ( life skill) इंसान के जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग है जिसके सहारे इंसान को अपने जीवन में एक नया मकसद मिलता है कि उसने भविष्य में क्या करना है? और क्या कर सकता है?

पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण भाग है। यह हमारे उठने-बैठने का तरीका, हाव भाव, बात करने का तरीका , निर्णय लेने का तरीका , काम करने का तरीका इत्यादि को दर्शाता है ।आज के समय में इसका बहुत ज्यादा महत्व है। अगर आप अपने जीवन में सफल होना चाहते हैं तो आपको भी पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट को अपनाना ही होगा।

life skill and personality development in hindi
life skill and personality development in hindi

उदाहरण के लिए- जब आप किसी व्यक्ति से पहली बार मिलते हैं तो उसके पहरावे, बात करने के तरीके, व्यवहार इत्यादि से आप उसकी पर्सनैलिटी के बारे में अनुमान लगा लेते हैं कि वह इंसान कैसा है? इस तरह से हम कह सकते हैं कि पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट इंसान के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है । अगर आपने आज के समय में अपनी पहचान बनानी है तो अपनी पर्सनैलिटी को डिवेलप करना ही होगा। आज के समय में काफी सारे विद्यार्थी अपनी पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट के लिए कोचिंग सेंटर का भी सहारा लेते हैं क्योंकि उन्हें भी पता है कि पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट उनके भविष्य की नींव है। इसी के सहारे हम अपनी ताकत को जान सकते हैं और अपने अंदर की कमियों को दूर करके खुद को जीवन में सक्षम और सफल बना सकते हैं।

पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट कैसे करें (Life skill and personality development in hindi )

1. Communication skill को सुधारें

सबसे पहले आप अपने बात करने के तरीके को सुधारें ।आप लोगों से कैसे बात करते हैं ? इससे भी आपकी पर्सनैलिटी के बारे में पता चलता है । जब आप किसी अनजान व्यक्ति से बात करते हैं तो आपके बात करने के तरीके से ही आपकी पर्सनैलिटी के बारे में पता चल जाता है।

  • कभी भी बात करने से पहले सोचे कि आपकी बातें सामने वाले को बुरी ना लगे।
  • हमेशा सामने वाले इंसान की आंखों में आंखें डाल कर बात करें इससे सामने वाले को आपके आत्मविश्वास के बारे में पता चलता हैं।
  • हमेशा नॉर्मल आवाज में बात करें। कभी भी किसी से ज्यादा ऊंची या फिर ज्यादा धीमी आवाज में बात ना करें।
  • कोशिश करें कि आप सामने वाले की बात को ध्यान से सुने और समझने की कोशिश करें क्योंकि जब आप सामने वाले की बात ध्यान से सुनते हैं तो वह भी आपकी बातों को सुनने में दिलचस्पी दिखाएगा।
  • कोशिश करें कि आप कम शब्दों में ही पूरी बात को समझ ले क्योंकि कभी-कभी कम शब्द भी पुरी कहानी बयां कर देते है।

2. अपने dressing sense को सुधारें

आपका पहरावा भी आपके व्यक्तित्व के बारे में सब कुछ बयां कर देता है। ड्रेसिंग सेंस का अर्थ होता है आप किस तरह के कपड़े पहनते हैं और आपकी पसंद कैसी है । उदाहरण के लिए आप जब ऑफिस में जाते हैं तो आपका पहरावा भी प्रोफेशनल होना चाहिए। ऑफिस में आप पार्टी वियर ड्रेस या फिर नाइट ड्रेस पहनकर नहीं जा सकते । जब आप ऑफिशल( official) जगह में जाते हैं तो आपके कपड़े भी प्रोफेशनल , साफ-सुथरे , और प्रेस किए होने चाहिए क्योंकि आपका पहरावा भी आपके व्यक्तित्व के ऊपर गहरा असर डालता है।

3. अपनी body language को भी सुधारे

बॉडी लैंग्वेज भी आपकी पर्सनैलिटी डेवलपमेंट के लिए बहुत जरूरी है । अपने बैठने-उठने के तरीके को सुधारें ।जब आप किसी पब्लिक प्लेस (public place) में बैठते हो तो ध्यान रखें कि आपके बैठने-उठने का तरीका सही हो । जब आप चलते हो तो नॉर्मली चले, किसी को धक्का देते हुए ना चले।

किसी से बात करते हुए या किसी को कोई बात समझाते हुए हाथों का ज्यादा इस्तेमाल ना करें । जब आप बात करें तो अपने हाथों को पॉकेट में ना रखे बल्कि नॉर्मली रखें । जब आप हंसते हैं तो ज्यादा जोर-जोर से ना हंसे बल्कि कोशिश करें कि बिना आवाज के हंसे । इस तरह से आपके उठने-बैठने का तरीका ,बात करने का तरीका , चलने का तरीका,हंसने का तरीका, इत्यादि भी आपके व्यक्तित्व के बारे में सब कुछ बता देता है।

life skill and personality development in hindi
life skill and personality development in hindi

4. अपने looks पर ध्यान दें

जब आप बाहर किसी से मिलने जाते हैं तो अपने लुक्स पर भी ध्यान दें ।बाहर जाते समय अच्छे से बाल बनाए ,ज्यादा मेकअप ना करें ,नेल्स को साफ रखें , प्रेस किए हुए कपड़े पहने ,आपकी ड्रेस से मिलता हुआ फुटवियर पहने । लुक्स का मतलब यह नहीं होता कि आपका रंग गोरा ही होना चाहिए बल्कि लुक्स का अर्थ यह हैं कि जब भी आप किसी पब्लिक प्लेस( public place) या फिर ऑफिशियल प्लेस( official place) में जाए तो अपने लुक्स को अच्छे से मेंटेन ( maintain) करके रखें।

5. अपने अंदर की ताकत और कमजोरियों को जाने

आपके अंदर की ताक़त और कमजोरियां आपके आत्मविश्वास से जुड़ा है ।क्योंकि जब लोगों के सामने आपका आत्मविश्वास डगमगा जाता है तो यह आपके अंदर की कमजोरी को दर्शाता है ।कोशिश करें कि आप अपने अंदर की कमी को दूर करके अपने अंदर आत्मविश्वास को जगाए । जो काम आपको आसान लगता है उसे पहले करें और जो काम आपको मुश्किल लगता है वह काम धीरे-धीरे और ध्यान से करें।

6. लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करें

आपका व्यवहार भी आपके चरित्र के बारे में बताता है ।सभी से प्यार से और सम्मानपूर्वक बात करें चाहे वह अमीर हो या गरीब, छोटा हो या बड़ा किसी भी प्रकार का भेदभाव किए बिना सभी से एकसमान व्यवहार करें। किसी के साथ बहस ना करें ,बात करते समय किसी भी अभद्र भाषा का इस्तेमाल ना करें ,और अगर कोई कुछ गलत बोलता भी है तो सबसे पहले उसे प्यार से समझाइए, अगर वह प्यार से समझ जाता है तो ठीक है

वरना उस इंसान के साथ बहस मत कीजिए। किसी से बात करने से पहले आप हेलो हाय, नमस्कार इत्यादि शब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि इससे भी आपकी पर्सनालिटी के बारे में पता चलता कि आप लोगो के सामने बात कैसे शुरू करते हैं।

निष्कर्ष
इस तरह से हमने जाना कि पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट क्या है? किस तरह से हम अपनी पर्सनैलिटी को डिवेलप कर सकते हैं? हमारे जीवन में इसका इतना महत्व क्यों है ? कैसे हम पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट से अपने भविष्य को उज्जवल बना सकते हैं । अंत में हम यह कह सकते हैं कि आज के समय में अगर हमने जॉब इंटरव्यू में भी जाना है तो वहां भी सबसे पहले हमारी पर्सनैलिटी को ही देखा जाता है। पर्सनैलिटी डिवेलपमेंट हमारी जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

अन्य पढ़े

Leave a Comment