Apple 2023 तक अपना खुद का सर्च इंजन लेकर आएगी

1. एप्पल हर साल गूगल को बीस बिलियन यूएस डॉलर देना नही चाहती इसीलिए 2023 तक अपना खुद का सर्च इंजन लेकर आएगी

images%20(2)

दोस्तों एप्पल और गूगल के बीच में पार्टनरशिप हो रखी है जिसकी वजह से गूगल सर्च इंजन को एप्पल अपने सभी डिवाइस के अंदर यूज़ करता है । इसके लिए एप्पल हर साल गूगल को बीस बिलियन यूएस डॉलर देता है। लेकिन एप्पल अब अपने बीस बिलियन यूएस डॉलर को बचाना चाहता है जिसकी वजह से वह अलग से ही अपना खुद का सर्च इंजन तैयार कर रहा है जोकि 2023 तक बन जाएगा ।

एप्पल अपने सभी डिवाइस के अंदर गूगल सर्च इंजन को रिप्लेस करना चाहता है क्योंकि वह हर साल गूगल को इतना पैसा नही दे सकता। इसीलिए वह 2023 के पहले महीने में ही अपना सर्च इंजन लेकर आएगा हालांकि वह बहुत ज्यादा बग्गी और बल हो सकता है। पहले भी एप्पल ने गूगल मैप को रिप्लेस करने की कोशिश की थी अपने आईफोन के अंदर तो इसके अंदर बहुत ज्यादा बग देखने को मिले थे और यूजर्स ने फिर से गूगल मैप को ही इंस्टॉल करके यूज करना शुरु किया था ।

2 ) एलोन मस्क और ट्विटर के बीच क्या यह डील होगी?

images%20(3)

दोस्तों एलोन मस्क और ट्विटर के बीच में जो डील चल रही है वह काफी टाइम से पेंडिंग में है । एलोन मस्क ने ट्विटर को एक बात कही थी कि मुझे ट्विटर का सारा डाटा दिखाओ वरना मैं यह डील अभी कैंसिल कर रहा हूं। ट्विटर पर बहुत सारे स्पैम बोट्स (spam bots) है इसीलिए मैं चैक करना चाहता हूं कि कौन बोट्स है और कौन रियल यूज़र है?अब जाकर ट्विटर ने एलोन मस्क को पूरी एक्सेस दे दी है। अब आने वाले वक्त में देखते है ट्विटर और एलोन मस्क के बीच में यह डील होती है या नहीं?

3 ) 83 साल के जैपनीज व्यक्ति बना “दुनिया का सबसे ओल्डेस्ट सोलो यॉट्समैन”

images%20(4)

दोस्तों इस दुनिया में बहुत से ऐसे लोग है जो पच्चास से साठ साल की उम्र में यह सोचने लगते है कि अब तो हमारी उम्र हो गई है अब हम अकेले कुछ नही कर सकते।लेकिन यही पर एक 83 साल के जैपनीज व्यक्ति जिसका नाम है केनिची होरी (Kenichi Horie) ने पूरे प्रशांत महासागर( pacific ocean) को अकेले ही पार करके दिखाया है। वह दो महीने पहले ही सैन फ्रांसिस्को (San Francisco) से निकले थे अपनी छोटी सी यॉट के अंदर और अब जाकर जापान में पहुंचे।अब वह दुनिया का सबसे पुराना सोलो यॉट्समैन( world’s oldest solo yachtsman) बन चुके है। और यही सेम चीज इन्होंने 23 साल में भी किया था।

4) वेदर बलून को रिप्लेस करने वाला है ड्रोन

images

भारत अब ट्रेडिशनल वेदर बलून (Traditional Weather Balloons) को रिप्लेस करने वाला है ड्रोन के साथ क्योंकि वायुमंडलीय डाटा को कलेक्ट करने के लिए वेदर बलून का यूज़ किया जाता है। इंडिया के अंदर 500 ऐसी लोकेशन है जहां पर दिन में दो वेदर बलून का यूज किया जाता है। उनको हाइड्रोजन से भरने के बाद में हवा में छोड़ दिया जाता है जिसके बाद में वेदर फोरकास्ट वालों के पास में रिपोर्ट आ जाती है कि क्या-क्या बदलाव हो रहे हैं हमारे वातावरण में और आने वाले वक्त में वेदर किस तरीके का रहेगा ?लेकिन अब ड्रोन इसको रिप्लेस कर देगा जो कि लॉ और हाई एल्टीट्यूड दोनों पर ही जाकर वेदर को रिकॉर्ड कर सकता है। इसके अंदर वेदर बलून के मुकाबले में काफी ज्यादा सेंसर होंगे और इसी के साथ साथ वेदर बलून को डाटा कलेक्ट करने में दो घंटे लगते है लेकिन यह चालीस मिनट में ही सारा डाटा कलेक्ट कर सकता है

5 ) साइंटिस्ट ने बनाया एक स्पेशल जेल जिससे हार्ट को डैमेज होने से बचाया जा सकता है

images%20(5)

साइंटिस्ट ने एक खास तरीके का स्पेशल जेल इन्वेंट किया है जो कि हार्ट डैमेज को हिल कर सकता है । जब भी हार्ट अटैक आता और वह व्यक्ति बच जाता है तो भी हार्ट को कुछ डैमेज हो जाते हैं और उस हार्ट के डैमेज को रिकवर करने के लिए ही यह जेल तैयार किया है ।दरअसल हार्ट भी हमारा मसल है जिसके अंदर कुछ मसल डैमेज हो जाते हैं हार्ट अटैक आने की वजह से अब उसको हील करने के लिए एक सेल्स के इंजेक्शन दिए जाएंगे जिससे कि उनके अंदर के न्यू टिशु दोबारा से ग्रो करने शुरू हो जाएंगे इसके बाद वह हील हो जाएगा वरना वह हमेशा के लिए ही डैमेज रहता है।

images%20(6)

6 ) इस साल बहुत से ऐसे स्मार्टफोन लॉन्च होंगे जिसमें होगा 200 वाट के फास्ट चार्जिंग सपोर्ट 

दोस्तों इस साल बहुत से ऐसे स्मार्टफोन होंगे जो 200 वाट के फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ में आएंगे और इसी के साथ साथ आने वाले वक्त में 200 मेगापिक्सल के कैमरे भी आ सकते है जिसके अंदर Xiaomi 12 Ultra का नाम सबसे ऊपर है ।

7) माइक्रोप्लास्टिक अब इंसानों के ब्लड के अंदर भी पाया गया है

images%20(7)

दोस्तों पॉल्यूशन तो आपको हर जगह देखने को मिलता है लेकिन क्या आपको मालूम है माइक्रोप्लास्टिक कहां तक पहुंच चुका है ? यह समुद्र के अंदर तो है ही इसी के साथ साथ इंसानों के ब्लड के अंदर भी माइक्रोप्लास्टिक पाया गया। यह जो वॉटर बॉटल होते है उनके अंदर भी माइक्रोप्लास्टिक पाया गया है। एलिप्स के जंगल (ellipse Forest) तक में माइक्रोप्लास्टिक पाया गया और अब अंटार्कटिका के अंदर पहली बार जो फ्रेश स्नो पड़ रही है उसके अंदर भी माइक्रोप्लास्टिक पाया गया है । यहां पर 19 सैंपल लिए गए है जिसमे सभी के अंदर माइक्रोप्लास्टिक मौजूद था तो प्लास्टिक वेस्ट की वजह से ही सारी दुनियाभर में यह हो रहा हैं।

Leave a Comment