चीन ने बनाया दुनिया का सबसे लंबा सिंगल टावर सस्पेंशन ब्रिज

1 ) चीन ने बनाया दुनिया का सबसे लंबा सिंगल टावर सस्पेंशन ब्रिज 

दोस्तों चीन ने अपने साउथ वेस्ट एरिया के अंदर दुनिया का सबसे लंबा सिंगल टावर सस्पेंशन ब्रिज ( Single-Tower Suspension Bridge ) तैयार कर दिया है। इस ब्रिज का नाम है लुझिझियांग ब्रिज ( Luzhijiang Bridge ) जो कि 800 मीटर लंबा है।

2 ) भारत में नथिंग फोन वन की सेल शुरू हो चुकी है

दोस्तों फ्लिपकार्ट के ऊपर 21 जुलाई को शाम 7:00 बजे नथिंग फोन वन का लाइव आ गया।अब इसकी सेल शुरू हो चुकी हैं, इसके लिए आपको प्रीऑर्डर करना होगा।अभी तक उसमे buy का ऑप्शन नहीं आया क्योंकि यह फोन आते ही आउट ऑफ स्टॉक हो जाता हैं । इसीलिए प्री ऑर्डर करना बहुत जरूरी है।

3 ) नासा ने स्पेसएक्स को दिया नैन्सी ग्रेस रोमन स्पेस टेलीस्कोप बनाने का कॉन्ट्रैक्ट

दोस्तों नासा अब एक नई टेलिस्कोप बनाने जा रहा है जिसका नाम है नैन्सी ग्रेस रोमन स्पेस टेलीस्कोप ( Nancy Grace Roman Space Telescope ) इसे वह 2026 में लॉन्च करेगा और इसका कॉन्ट्रैक्ट इन्होंने स्पेसएक्स को दे दिया है वो भी 255 मिलियन यूएस डॉलर के अंदर। यह टेलिस्कोप डार्क एनर्जी , डार्क मैटर , और एक्सोप्लैनेट ( Exoplanet ) की स्टडी करेगा ।

4 ) 26 जून 2022 को घाना के अंदर आया मारबर्ग वायरस का पहला केस

 26 जून 2022 को घाना के अंदर मारबर्ग वायरस ( Marburg virus ) का पहला केस आया जोकि इबोला वायरस की फैमिली से ही बिलोंग करता है। अगर इस वायरस की वजह से कोई सीरियस हो जाए तो 8 से 9 दिनों में पेशेंट की जान जा सकती है। इसमें ब्लड लॉस हो जाता है वह ब्लड उसके नाक से निकलता है , उल्टी में निकलता है और इसी के साथ साथ प्राईवेट पार्ट से भी निकल जाता है । इस तरह से ब्लड लॉस होने की वजह से उस पेशेंट की जान चली जाती है।26 जून को घाना में पहला केस आया था और 28 जून को एक और केस आया था जोकि उसी हॉस्पिटल में एडमिट था किसी और बीमारी की वजह से लेकिन उस पेशेंट के संपर्क में आने से इसको भी इन्फेक्शन हो गया। इसमें इनफेक्टेड ब्लड का काफी बड़ा रोल रहता है क्योंकि उसके कॉन्टैक्ट में अगर कोई व्यक्ति आ गया तो इंफेक्शन हो सकता है । अगर इस बीमारी से ठीक होने की बात की जाए तो इसमें 2 से 21 दिन तक लग सकते हैं ।

5)गौतम अदाणी अब दुनिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति बन चुके हैं, नंबर वन पर है एलोन मस्क 

इंडिया के गौतम अदाणी अब दुनिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति बन चुके हैं क्योंकि बिल गेट्स ने लास्ट टाइम बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ( Bill & Melinda Gates Foundation ) को 20 बिलियन डॉलर डोनेट करके अपनी पोजिशन खो दी है और अब उनकी नेटवर्थ 102 बिलियन यूएस डॉलर पर आ चुकी है। गौतम अडानी के 124 बिलियन यूएस डॉलर थे जिसकी वजह से वह चौथे स्थान पर आ चुके हैं। अगर पूरी रैंकिंग देखी जाए तो नंबर वन पर है एलोन मस्क 230 बिलियन यूएस डॉलर की नेटवर्थ और इसके बाद में दूसरे नंबर पर आते हैं बर्नार्ड अर्नाल्ट जोकि 148 बिलियन यूएस डॉलर की नेटवर्थ की नेट वर्थ पर है।इसके बाद में आते हैं जेफ बेज़ोस 139 बिलियन यूएस डॉलर की नेटवर्थ पर है।

6 ) क्रिस इवांस ने 7 सालों के बाद आईफोन 6S से आईफोन 12 प्रो पर स्विच किया 

दोस्तों जिन लोगों के पास बहुत पैसा होता है वह लेटेस्ट आईफोन लेना ही पसंद करते हैं यानी कि अगर कोई लेटेस्ट आईफोन आया तो उनके पास वही होना चाहिए। लेकिन हर व्यक्ति ऐसा नहीं होता, जिसका जीता जागता उदाहरण है मार्वल सिनेमैटिक यूनिवर्स के क्रिस इवांस जो 7 सालों से आईफोन 6S ही चला रहे थे, अब जाकर उन्होंने आईफोन 12 प्रो पर स्विच किया है और यह भी नहीं कि आईफोन 13 प्रो पर स्विच किया हो, नहीं ।इनको लगा कि इस वक्त में प्राइस सही मिल रहा है तो आईफोन 12 प्रो को लिया जाना चाहिए। एक इंटरव्यू में इनसे पूछा भी गया था कि आपने इतने टाइम बाद अपना आईफोन क्यों अपग्रेड किया ? एक तो इन्होंने यह कहा कि इसके अंदर होम बटन था जिसकी वजह से मैं इसी को यूज किया जा रहा था और एक बार जो चीज़ हाथ में बैठ जाती है फिर उसे इतनी आसानी से छोड़ने का मन नहीं करता इसलिए उन्होंने चाह नहीं कि कुछ नया किया जाए तो इन्होंने नया आईफोन लिया ही नहीं । अब आईफोन 12 प्रो में इनको यह लग रहा है कि यह पहले वाले से हैवी है और होम बटन भी मिस कर रहे हैं।

7 ) इंग्लैंड के कॉस्ट की रक्षा करने वाला और वर्ल्ड वॉर 1 ऐरा का बुल सैंड फोर्ट बहुत ही जल्द नीलम होने वाला है वो भी सिर्फ 60000 यूएस डॉलर में

दोस्तों वर्ल्ड वॉर 1 ऐरा के अंदर 1915 और 1919 के बीच में इंग्लैंड के कॉस्ट से तीन मील दूर एक नदी के किनारे पर बुल सैंड फोर्ट बनाया गया था , इसे समुद्री किला भी कहा जा सकता है। 19 जुलाई को यह ऑक्शन में बिकने वाला है वो भी सिर्फ 60000 यूएस डॉलर के अंदर यानी कि 47 लाख रूपए इसकी शुरुआती कीमत होगी जिसके ऊपर बोली लगेगी और बोली कहीं तक भी जा सकती है क्योंकि यह अपने आप में यूनिक है, वर्ल्ड वॉर वन के ऐरा का है और समुद्र से तीन मील की दूरी पर है ।

8 ) यूएस में अब अबॉर्शन करवाना गैर-कानूनी है

दोस्तों आपको मालूम होगा कि यूएस के अंदर अबॉर्शन को लेकर प्रोटेस्ट चल रहा है क्योंकि अब वहां पर अबॉर्शन करना लीगल काम नही रहा। सुप्रीम कोर्ट ने भी साफ-साफ कह दिया है कि किसी भी महिला को अब अबॉर्शन करना कॉन्स्टिट्यूशनल राइट नहीं है। अगर कोई महिला प्रेगनेंट हो गई चाहे वह एक हफ्ते की प्रेगनेंट है फिर भी वह अबॉर्शन नहीं कर सकती तो इसी को लेकर वहां प्रोटेस्ट चल रहा है। यही पर एक महिला हाईवे के ऊपर कारपूल लेन के अंदर से अपनी कार को लेकर जा रही थी और इस लेन पर सिर्फ वही कार चला सकते हैं जिस कार के अंदर दो लोग हो, लेकिन यह अकेली थी भी और नहीं भी। यह महिला 8.5 महीने की प्रेगनेंट थी।इस महिला का 215 यूएस डॉलर का चालान काट दिया गया क्योंकि यह एक तरीके की रिस्ट्रिक्टिव लाइन हैं कि उसके अंदर एक ड्राइवर और एक पैसेंजर का होना ज़रूरी है। यूएस के अंदर यह हाई ऑक्यूपेंसी वाली लाइन कही जाती हैं । उस ऑफिसर ने महिला से कहा कि तुम्हारी कार में कोई दूसरा पैसेंजर नहीं है इसीलिए तुम्हारा चालान कटेगा लेकिन उस महिला ने अपने पेट की तरफ़ इशारा करते हुए कहा कि मैं अकेली नहीं हूं बल्कि मेरा बेबी भी है।लेकिन ऑफिसर ने यह कहकर मना कर दिया कि बेबी बॉडी के अंदर है इसीलिए यह लाइफ नहीं मानी जायेगा लेकिन यही सेम रूल वहां पर चल रहा है कि अबॉर्शन का मतलब है एक लाइफ को खत्म करना और अगर वो लाइफ उसके पेट में है तो इसका चालान नहीं कटना चाहिए। अब यह महिला कोर्ट पहुंच गई है ।

Leave a Comment