शाओमी ने चीन के अंदर लॉन्च किया अपना पहला स्मार्ट AR Glases

1. शाओमी ने चीन के अंदर लॉन्च किया अपना पहला स्मार्ट AR Glases

दोस्तों शाओमी ने अपना पहला स्मार्ट AR Glases चीन के अंदर लॉन्च कर दिया है।यह कोई नॉर्मल लुकिंग वाला ग्लास नहीं है बल्कि इससे वीडियो रिकॉर्डिंग और लाइव ट्रांसलेशन भी कर सकते है। इसी के साथ-साथ इसके अंदर दो कैमरे भी लगाए गए हैं। शाओमी ने इसको नाम दिया है मिजिया ग्लासेस कैमरा ( Mijia Glasses Camera ) और इसको डेली यूज़ में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता । इसमें दो सेंसर लगाए गए है मुख्य सेंसर ( Main Sensor) 50 MP का है और सेकेंडरी सेंसर 8 MP का है ।बैटरी, सेंसर और कैमरा मिलाकर इस ग्लासेस का कुल वजन 100 ग्राम है । 

2. पर्सेवरेंस रोवर मार्स से लेकर आयेगा सैंपल ताकि मार्स पर जीवन की खोज की जा सके 

दोस्तों नासा ने अभी तक मार्स से करीबन ग्यारह सैंपल कलेक्ट कर लिए हैं और वो धरती के ऊपर भी वापस लाएंगे । फिलहाल के लिए पर्सेवरेंस रोवर ( Perseverance Rover ) का यही काम है कि वह मार्स से सैंपल इकट्ठे करके धरती पर लेकर आयेगा लेकिन अभी यह दो तीन साल में वापस नहीं आएगा बल्कि 2033 तक ही यह सैंपल लेकर धरती पर वापस आएगा क्योंकि इन सैंपलों को वापस लाने के लिए भी नासा एक दो मिशन और करेंगे और यही पर ट्रिकी पार्ट यह है कि वो इन सैंपल को धरती पर कैसे लायेंगे।

3. चीन कर सकता है ताइवान पर अटैक : चीन ने अमेरिकी रिप्रेजेंटेटिव नैन्सी पेलोसी को ताइवान विजिट करने से मना किया था लेकिन फिर भी उन्होंने ताइवान विजिट किया 

दोस्तों चीन ने ताइवान को चारों तरफ से अपनी वॉरशिप से घेर रखा है क्योंकि चीन ने कहा था कि अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी ( Nancy Pelosi ) ताइवान विजिट नहीं कर सकती लेकिन इसके बावजूद भी वह ताइवान गई और इतना होने के बाद चीन ने अब ताइवान को चारों तरफ़ से घेर लिया है। यही पर अगर चीन ताइवान के ऊपर अटैक करता है तो इसका असर पूरी दुनिया के अंदर भी पड़ने वाला है क्योंकि 50% सेमी कंडक्टर चिप सिर्फ ताइवान में ही मैनुफैक्चर होते है तो अगर चीन गलती से भी ताइवान के ऊपर अटैक कर देता है तो ताइवान में सारे इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम के प्राइस काफी ज्यादा एक्सपेंसिव हो जायेंगे ।

दोस्तों यूएस हमेशा से ही ऐसा करता आ रहा है अगर यूक्रेन और रशिया की वॉर भी देखें तो यूएस वहां पर यूक्रेन को धक्का दे रहा था इस वॉर के लिए लेकिन इसके बाद में जैसे ही वॉर शुरू हुआ तो यूएस बस तमाशा देखने का काम कर रहा है। यही सेम चीज़ इन्होंने ताइवान के साथ में भी करी है अब देखते है चीन क्या कदम उठाता है।

4. आने वाले समय में स्टारलिंक सैटेलाइट हमारी नग्न आंखो के लिए अदृश्य होंगे  

दोस्तों अभी तक आप स्टार्लिंग सैटेलाइट को अपनी नग्न आखों से देख पा रहे थे लेकिन आने वाले समय में स्पेसएक्स के नेक्स्ट-जेन स्टारलिंक उपग्रह आपकी नग्न आंखो के लिए अदृश्य होंगे।इन्होंने अभी तक करीबन 4200 सैटेलाइट भेज रखे है जिसमें से 2300 ऑपरेशनल है ।लेकिन इनको करीबन 44000 -45,000 सैटेलाइट भेजनी है ताकि पूरी दुनिया में इंटरनेट को फैलाया जा सके। अगर वह इसी तरह से सैटेलाइट भेजते रहे तो हमे आसमान में सिर्फ लाइनें ही लाइनें दिखने लग जाएगी तो इस तरीके की चीजें ना हो तो उसके लिए अब ये रिफ्लेक्शन रोकने के लिए कुछ नए कलर के सेटेलाइट और सनवाइज़र टाइप की कोई टेक्नोलॉजी भी इसके अंदर यूज़ करने वाले हैं जिससे सूरज का रिफ्लेक्शन देखने को नहीं मिलेगा क्योंकि उसी की वजह से हमें यह लाइनें दिखती है।

5. फोनपे ने पेटीएम के तीन कर्मचारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करी क्योंकि इन्होंने फोनपे के QR कोड के ढेर को जला दिए 

दोस्तों अभी हाल ही में एक वीडियो काफी ज्यादा वायरल हुई थी जिसके अंदर फोनपे के QR code के ढेर को जलाते हुए दिखाया गया है। यह घटना उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा की है जहां पर paytm के तीन कर्मचारियों ने फोनपे क्यूआर कोड को जला दिया था। पुलिस ने जब झानबीन करी तो पता चला कि पहले यह तीनों फोनपे के एम्प्लॉय हुआ करते थे उन्होंने इसे छोड़ दिया उसके बाद में पेटीएम जॉइन कर लिया ।अब फोनपे ने इन तीनों कर्मचारियों के ऊपर केस रजिस्टर कर दिया है । 

6. आगरा में एक मिठाईवाला रक्षाबंधन पर सोने से बना हुआ घेवर बेचती है जिसकी कीमत 25,000 रूपये किलो है 

दोस्तों त्योहारों का सीज़न बस शुरु होने वाला है जैसे कि अब रक्षाबंधन आने वाला है । यही पर आगरा के अंदर एक मिठाई वाला है जो कि घेवर बेच रहा है वो भी 25,000 रुपए किलो और अभी तक बारह किलो बेच भी चुका है । अब आप यह कहोगे कि इसके घेवर में ऐसा क्या है जिसे लोग 25,000 रुपए में भी ख़रीद रहे है ? दरअसल इस मिठाईवाले ने अपने घेवर के अंदर इसने गोल्ड का वर्क भी किया है जिसकी वजह से इसकी कीमत इतनी ज्यादा है। लेकिन देखने में और टेस्ट में यह नार्मल घेवर जैसा ही है ।

Leave a Comment