व्हाट्सएप का डाटा हुआ लीक जिसमें 500 मिलियन यूजर्स के मोबाइल नंबर मौजूद

1. ट्विटर से निकाले जाने के बाद यह आयरिश महिला कोर्ट में गई

दोस्तों ट्विटर के ऊपर जिस तरीके से एम्पलॉइज को निकाला गया था उसे देखते हुए बाकी के एम्पलॉइज ने भी ज्यादा काम करना शुरू कर दिया था लेकिन इसके बावजूद भी कई सारे ऐसे एम्पलॉइज थे जिन्होंने ज्यादा काम किया था फिर भी उन्हें जॉब से निकाल दिया गया । अभी इसी तरीके का इंसीडेंट हुआ एक आयरिश महिला के साथ में जिसका नाम Sinead McSweeney हैं और इनके कॉन्ट्रैक्ट में लिखा हुआ था कि इन्हें एक हफ्ते में 49 घंटे तक काम करना होगा लेकिन एलोन मस्क के आने के बाद सभी एम्पलॉइज को एक ईमेल आता है कि सभी को Extremely Hardcore Work Culture को फॉलो करना पड़ेगा। इसी के साथ-साथ यह कहा गया कि आपको पहले से ज्यादा काम करना होगा यानी कि हफ्ते में 84 घंटे काम करना पड़ेगा । लेकिन इन्होंने हफ्ते में 75 घंटे भी काम किया है लेकिन इसके बावजूद भी इन्हें कंपनी से निकल दिया गया । हालांकि इन्होंने Extremely Hardcore Work Culture के लिए भी हां किया था लेकिन ऐसे बहुत से एम्पलॉइज है जिनको फिर भी जॉब से निकाला गया । ऐसा होने की वजह से Sinead McSweeney कोर्ट में गई है और इन्होंने कोर्ट में साफ-साफ बताया है कि मैं पहले से अच्छा काम कर रही थी और मैं काफी ज्यादा डरी हुई थी कि कही मुझे जॉब से ना निकाल दिया जाए लेकिन इसके बावजूद भी मुझे निकाल दिया गया ।

2. व्हाट्सएप का डाटा हुआ लीक जिसमें 500 मिलियन यूजर्स के मोबाइल नंबर मौजूद

दोस्तों रिसेंटली व्हाट्सएप का एक बहुत बड़ा डाटा लीक हुआ हैं जिसके अंदर 500 मिलियन यूजर्स के मोबाइल नंबर मौजूद है और यह सारी दुनिया का ही डाटा लीक हुआ हैं । इसमें करीबन 50 करोड़ लोगों के फोन नंबर है जिसके अंदर 84 देशों का व्हाट्सएप यूजर डाटा शामिल हैं और इस डाटा लीक के अंदर 62 लाख इंडियन भी शामिल है । फिलहाल के लिए इन हैकर्स ने सिर्फ3.2 करोड़ यूजर के ही डाटा सेल पर लगाए हैं जो करीबन 7000 डॉलर में बिक रहे हैं यानी कि करीबन 56 लाख रूपये में यह डाटा सेल हो रहा है । यह डाटा किस तरीके से हैक हुआ ? कब हुआ ? यह तो शायद व्हाट्सएप को भी मालूम नहीं होगा क्योंकि फेसबुक , इंटाग्राम , व्हाट्सएप यह सब मार्क जकरबर्ग के अंडर में है । मार्क जकरबर्ग डाटा प्रोटेक्शन किस तरह से करते है वो हम फेसबुक पर कई सालों से देख रहे हैं।

3. John McFall : दुनिया के पहले विकलांग एस्ट्रोनॉट जिन्होंने European Space Agency को किया ज्वॉइन

दोस्तों अगर आपसे इस वक्त किसी एस्ट्रोनॉट का नाम पूछा जाए तो शायद आपके दिमाग में सबसे पहले Neil Armstrong का नाम आए या फिरराकेश शर्मा आ सकता है क्योंकि यह पहले इंडियन सिटिज़न है जो कि स्पेस में गए थे । अब आप कहोगे कि इनसे पहले बहुत से इंडियन एस्ट्रोनॉट भी तो गए है लेकिन वह सभी इंडियन ओरिजिन के हो सकते हैं, लेकिन इंडियन सिटिज़न नहीं कहलाए जा सकते । यही पर अब आपको एक और नाम याद रखना होगा John McFall का क्योंकि यह दुनिया के पहले एस्ट्रोनॉट होंगे जो विकलांग होने के बावजूद भी एस्ट्रोनॉट बने हैं। दरअसल रोड ऐक्सिडेंट की वजह से यह अपना एक पैर गवां बैठे थे , लेकिन फिर भी इन्होंने 2008 के Paralympic Games में Bronze medal जीता। इसके बाद इन्होंने European Space Agency में अप्लाई किया एस्ट्रोनॉट के लिए तो यहां परकरीबन 257 ऐप्लिकेशन आई थी जिसको पार करके इनका नंबर सबसे पहले आ गया ।फिलहाल अभी यह Physical and Psychological Test दे रहे है और इस टेस्ट में पास होने के बाद ही इन्हें स्पेस में भेजा जाएगा । अगर यह स्पेस में जाते है तो यह दुनिया के पहले ऐसे एस्ट्रोनॉट होंगे जो विकलांग होने के बाद भी स्पेस में जायेंगे।

4. दूसरे देशों के मुकाबले इंडिया में 5G नेटवर्क का रोलआउट बड़ी तेजी के साथ हो रहा है

दोस्तों आपमें से बहुत सारे लोगों ने 5G की स्पीड को एक्सपीरियंस कर लिया होगा । आपके एरिया के पास भी 5G Network आ रहा होगा या फिर आप कही भी जाते हो तो आपको 5G नेटवर्क दिख जाते होंगे। नोकिया का कहना हैं कि अगर इंडिया की तुलना दूसरे देशों से करें तो इंडिया के अंदर तीन से चार गुना तेजी से 5G नेटवर्क रोलआउट हो रहा है । इंडिया का जो इकोसिस्टम है और यहां पर जो टावर हैं सबकुछ सेटअप हो रखा है तो इसी वजह सेयहाँ पर 5G नेटवर्क बहुत तेज़ी के साथ में रोलआउट किया जाएगा । यहां पर 10% लोग ऐसे भी हैं जिनके पास में 5G केपेबल फ़ोन है तो कोई भी दिक्कत नहीं होने वाली है। अप्रैल 2023 तक 200 शहरों में 5G को अनेबल कर भी देंगे ।

5. दिल्ली हाईकोर्ट : अब कोई भी अमिताभ बच्चन की परमिशन के बिना उनके नाम , फोटो और आवाज का इस्तेमाल नहीं कर सकता

दोस्तों हम में से बहुत सारे लोग ऐसे है जो शायद अमिताभ बच्चन की आवाज़ को थोड़ा बहुत कॉपी कर लेते हैं और कई सारे लोग इस आवाज का गलत फायदा भी उठाते है जैसे कोई गेमिंग एप्लीकेशन बना दी और उसके अंदर अमिताभ बच्चन की आवाज़ का यूज़ करने लग गए । आजकल बहुत से लोग KBC वाला लॉटरी सिस्टम चलाकर लोगों के साथ स्कैम भी कर रहे है जिससे परेशान होकर अमिताभ बच्चन दिल्ली हाईकोर्ट चले गए ।यहां पर अमिताभ बच्चन के एक सैलेब्रिटी के तौर पर उनके Publicity Rights का वॉयलेशन किया जा रहा था । अब हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया है कि कोई भी अमिताभ बच्चन की परमिशन के बिना उनके नाम , फोटो और आवाज का इस्तेमाल नहीं कर सकता । उनकी पर्सनैलिटी से रिलेटेड किसी भी चीज का इस्तेमाल किसी गैर कानूनी या फिर अपने प्रॉफिट के लिए यूज़ नहीं कर सकते और अगर कोई ऐसा करता है तो उसे कोर्ट जाना पड़ सकता है और उसको जेल की सजा भी हो सकती है ।

Leave a Comment