जो आप सोच सकते हो वो आप कर भी सकते हो “

“जो आप सोच सकते हो वो आप कर भी सकते हो “

आज का हमारा विषय है “जो आप सोच सकते हो वो आप कर भी सकते हो ” । दोस्तों हम अपनी सोच से पहले दूसरों के बारे में सोच लेते हैं, हमें कभी ये नहीं सोचना चाहिए कि हम कुछ नहीं कर सकते ,कुछ भी काम करने से पहले ही हम नेगिटिव सोच लेते हैं कि हम यह नहीं कर‌ सकते ,हमसे यह काम नहीं हो पायेगा इसलिए दोस्तों कुछ भी करने से पहले दू्सरो की सोच से मत चलो , अपनी सोच से चलना सीखो ।हमेशा अपने दिल की सुनो क्योंकि हमारी कमी ही हमारी कमजोरी बन सकती है जिससे कि हमारा विश्वास कम हो जाता है ।

1 ) कई बार तो हमारे साथ ऐसा होता है ,जो हम सोचते वो होता नहीं होता और जो नहीं सोचते वो हो जाता है । इसलिए दोस्तों जो भी सोचना हो अच्छा सोचो और ऐसी सोच रखना की हम जो सोच रहे हैं अच्छा हो ।

2 ) हमारे जीवन के लक्ष्य में नामुमकिन कुछ भी नहीं है हम वह सब कर सकते हैं जो हम सोच सकते है । इस दुनिया में ऐसा कोई काम नहीं जिसे हम नहीं कर‌ सकते, अगर हम अपने मुकाम को पाने के लिए अपने लक्ष्य को साथ लेकर सोचते है तो हम उस मंजिल को पाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं हमारे सामने चाहे जो भी बांधा क्यूं न आए फिर भी हमें अपनी मंजिल को हासिल करना ही है ।

3 ) आप अपने जीवन में बहुत से ऐसे लोगों से मिलोगे जो आपको भला बुरा कहेंगे जैसे कि आप अच्छे नहीं हो , आप किसी काम के नहीं हो, आपको कुछ नहीं आता इत्यादि आपके पास अपनी ताकत और अपनी क्षमताओं होगी तो आप कुछ न कुछ जरूर कर सकते हो।

4) सबसे महत्वपूर्ण बात है जो आपको ध्यान में रखने की जरूरत है वह है आप अपनी सोच पर ध्यान केंद्रित करो , दूसरों के बारे में तो सोचो पर‌ उन्हें अपनी सोच न बनाओ ,, अपने लक्ष्य पर अड़े रहो आप अपनी मंजिल तक जरूर पहुंच पाएंगे।
5 ) हमेशा ऊंचा सोचो जब हम अपनी सोच को ऊंचा रखेंगे तभी तो हम अपनी सफ़लता की सीढ़ी तक पहुंच सकते हैं ,,,,, तो इसलिए दोस्तों कुछ करने की‌ सोचो ,न कि हार मान कर चुप चाप बैठ जाओ ।
6 ) हम कभी भी रातों रात सफल नही हो सकते। हमे समय के साथ कड़ी मेहनत की भी जरूरत पड़ती है ।अगर इंसान चाहे तो सब कुछ कर सकता है लेकिन हमें शुरूआत करने की जरूरत होती है ।कभी कभी तो हम हमारी सोच में ही खो जाते है , की ये काम हमसे नही होगा ? मैं कैसे कर पाऊंगा ? मुझे इसके बारे में पता नही है इत्यादि हम अजीब अजीब सोचने लग जाते है ।हमे खुद पर विश्वास होना चाहिए और अगर हमे खुद पर विश्वास होगा तो हम कुछ भी के सकते है और हमे दुनिया उस वक्त तक नही हरा सकती जब तक हम खुद हार ना मान ले।

7 ) अगर इंसान कुछ सीखना चाहता है तो वो किसी के दो लब्ज़ से भी सीख सकता है वरना न समझ लोगो के लिए तो कुछ भी कर लो कम ही पड़ जाता है। आपको आपकी अच्छी कोशिश ही आपको काम्याब बना सकती है और एक अच्छी कोशिश आप कभी भी कर सकते है बस हमेशा ये बात याद रखना जो सच्चे दिल से मेहनत करता है किस्मत उसी का साथ देती है ।
8) हम आपने जीवन में वास्तव में कुछ करना चाहते हो तो आपको रास्ता जरूर मिलेगा और अगर नही करना चाहते हो तो ये आपका एक बहाना के रूप में दिखाई देता है। ऐसा नही है कि हम अपने जीवन में एक बदलाव लाने के लिए कोशिश नही कर सकते है बल्कि हमें कोशिश करनी चाहिए और आपको तो पता ही होगा ? भीड़ हमेशा उसी रास्ते पर मिलती है जो रास्ता आसन होता है और भीड़ वाला रास्ता हमेशा आसान होता है लेकिन उसमे आपकी पहचान नहीं होगी। आपको अपना रास्ता खुद चुने जिस दिन आप ये करोगे उस दिन आपको आपसे बेहतर कोई नहीं जान सकता है ।

9 ) दोस्तो इस दुनिया में कोई भी काम मुश्किल नही है बस हम अपनी सोच से उस काम को मुश्किल बना देते है। हमे हमेशा यह सोचना चाहिए कि हम वो सब कर सकते है जो हम सोच सकते है पर हम ये भूल जाते है की हम वो सब सोच सकते है जो हमने आज तक नहीं सोचा होगा ।

10 ) अगर आप समय पर अपनी गलतियो को स्वीकार नही करते हो तो हम एक और गलती कर बैठते है , हमे, कभी भी मुसीबत से भागना नही चाहिए बल्कि हमे मुसीबत का सामना करना चाहिए । हमे जीवन में समय -समय पर चुनौतियों और मुसीबतों का सामना करना पड़ता है ।आप जो करने से डरते उसे करिए और करते रहिए अपने डर पर विजय पाने का सही और सबसे आसान तरीका है । हम जिस नजर से दुनिया को देखेंगे ? हमे दुनिया वैसी ही दिखाई देगी ।
11 ) यदि कोई व्यक्ति बुरी सोच के साथ अपना काम करता है तो उसे कष्ट ही मिलता है । हम ये सोचते है कि जिसको जो कहना है कहने दो हमारा थोड़ी ना कुछ जाता है पर हम ये भूल जाते है की कभी एक समय हमारा भी तो आ सकता है । क्या आपकी भी सोच नकारात्मक हो गई है अपनी सोच को नकारात्मक से सकारात्मक सोचने की जरूरत है , हमे सिर्फ अपने नजरिए को बदने की जरूरत है , अगर आपने कभी भी कुछ सोचा होगा ? और आपके अंदर उस काम को करने की क्षमता है तो यकीन मानो आप उस काम को जरूर पूरा करोगे। कई बार तो ऐसा होता है, की हम जिस काम को सोचते है वो काम कभी पूरा ही नही होता और जिसके कारण हम हर मानने लग जाते है लेकिन काम चाहे कितना ही बड़ा क्यू न हो हमे हार नही माननी चाहिए आपको अपने उस काम को तब तक नहीं छोड़ना चाहिए जब तक आप उसे पूरा ना करो और हमेशा ये बात याद रखना कि किसी भी काम काम को बदलने के लिए नही बल्कि ख़ुद में बदलाव लाने के लिए करो ।

निष्कर्ष
हम सब की जिंदगी मै कोई न कोई मुस्किल काम करने के लिए किसी न किसी की जरूरत पड़ जाती है , हम सोचते है की यह काम हम नही कर सकेंगे ऐसे वक्त में हमे किसी न किसी जरूरत होती है जो हम समझा सके कुछ बता सके , हमे कुछ समय तक ऐसा लगता है की हम हर मुसीबतों से निकल सकते है तो इसलिए हमारे जीवन में किसी के द्वारा दी गई प्रेरणा का महत्व होता है हमे अच्छी सोच ही हमारे सपने तक ले जा सकती है ।सपने जरूर देखो और सपने को पूरा करने के लिए भी पूरी जी जान लगा दो ताकि आपको बाद में इस बात का पछतावा ना हो कि काश मैंने उस दिन थोड़ी सी पी मेहनत कर ली होती।

Leave a Comment