चीन के लोन एप्लिकेशन

images

दोस्तों आपको चीन के लोन एप्लिकेशन के बारे में पता ही होगा लेकिन अभी हम जो आपको बताने जा रहे है वो आपने कभी नहीं सुना होगा । पहले क्या होता था जब आपको लोन चाहिए होता था तो यह आपको 2000 रूपये से 5000 रूपये तक का लोन आसानी से दे देते थे लेकिन उसके बाद में उस लोन पर इतना ज्यादा इंटरेस्ट ( Interest ) लेते थे जिसको आपको किसी भी हाल में देना ही पड़ता था और अगर नहीं दोगे तो यह आपके कॉन्टैक्ट लिस्ट पर कॉल करके आपके बारे में बुराइयाँ करते थे और आपके लोन के बारे में भी बता देते थे।इस तरह से यह हमारे रिश्तेदारों में हमारी बेज्जती करते थे लेकिन अब ऐसा नहीं होता बल्कि अब इससे भी ज्यादा एक्स्ट्रीम हो चुका है । 

images%20(2) 1661532579570

दरअसल दिल्ली की साइबर सेल ने एक पूरा रैकेट एक्सपोज किया है जोकि इन्हीं लोन ऐप्स के जरिए लोगों से पैसे निकलवा रहे थे और अभी तक इन्होंने लोगों से 500 करोड़ रुपए निकलवा भी लिए हैं जबकि इतने ज्यादा पैसे लोगों को दिए भी नहीं गए थे। लोन ऐप्स से लोगों को डरा-धमकाकर और ब्लैकमेल करके पैसे वसूले जाते थे।दिल्ली की साइबर सेल इन रैकेट्स को पकड़ने के लिए दो महीनों से एक ऑपरेशन चला रहे थे इंडिया के अंदर ऐसी करीबन 100 एप्लीकेशंस है जोकि चाइना के द्वारा चलाई जा रही थी,यह इंडियन बेस्ड एक्सटोर्शन सेन्टर ( Extortion center ) टाइप कॉल सेंटर होते है जोकि पैसों की रिकवरी करने के लिए लोगों को डराते थे और ब्लैकमेल भी करते थे । अभी तक इन्होंने लोगों से 500 करोड़ रूपये निकलवा भी डाले।

images%20(5)

अगर इन लोन ऐप्स की बात की जाए तो यह मुश्किल से 2000 रूपये से 5000 रूपये तक का ही लोन देते थे लेकिन इसके ऊपर इंटरेस्ट रेट इतना ज्यादा लगा देते है और फिर ब्लैकमेल भी इतना ज्यादा करते है कि कई लोगों ने परेशान होकर सुसाइड भी किया है।  

यहां पर चाइना की कई सारी लोन एप्लिकेशन है जैसे Papa money app , Infinity cash app , Kredit mango app , Kredit marvel app , CB loan app , Cash advance app etc ऐसे बहुत से एप्लीकेशन है जोकि इस लिस्ट के अंदर है ।फिलहाल के लिए इन सौ लोन एप्लीकेशंस के अंदर 6 चाइनीज नैशनल्स का नाम सामने आ रहा है कि यह इंडियन बेस्ट एक्सटोर्शन कॉल सेन्टर द्वारा इन्हें ऑपरेट करवा रहे थे ।जब दिल्ली के अंदर एक जगह रेड हुई तो उस जगह पर नौ लैपटॉप मिले, 25 हार्ड डिस्क मिले, 51 मोबाइल फ़ोन मिले और 19 डेबिट कार्ड मिले जो कि इन्हीं लोन ऐप्स के लिए काम कर रहे थे लोगों को ब्लैकमेल करके पैसे ले रहे थे और ये हवाला और क्रिप्टोकरेंसी के जरिए चाइना में पैसे भेज रहे थे ।

images 1661532579704

दरअसल यहाँ पर दिल्ली साइबर सेल का यह ऑपरेशन इस वजह से स्टार्ट हुआ था क्योंकि दिल्ली में लोन ऐप्लिकेशन के ऊपर बहुत ज्यादा कंप्लेंट आ रही थी कि यह अपना इंटरेस्ट रेट काफी ज्यादा कर रहे थे और इसी के साथ-साथ लोगों को ब्लैकमेल भी कर रहे थे।लेकिन अब इन्होंने अपने पैसे लेने का तरीका बदल दिया था पहले की तरह रिश्तेदारों को कॉल नहीं करते थे बल्कि अब उससे भी एक लेवल आ बढ़ चुके थे । पहले तो अपनी आपसे दुर्भावनापूर्ण अनुमतियां ( Malicious Permissions ) आपसे एक्सेप्ट करवाएंगे। जैसे पहले जब आप ऐप इंस्टॉल करते हो तब आप परमिशन दे देते हो जिससे आपकी फोटो, कॉन्टैक्ट्स की डिटेल्स , वीडियो रिकॉर्डिंग , मैसेज , चैट्स और ऐसी बहुत सारी प्राइवेट चीजे होती है जिसकी आप परमिशन दे देते हैं और आपको इंस्टॉल करते वक्त मालूम भी नहीं चलता लेकिन आपकी तरफ से सारी परमिशन चली जाती है ।अब कई बार फोन में ऐसी प्राइवेट फोटो और वीडियो होती है जिसको आप किसी को दिखाना नहीं चाहते लेकिन इन लोन एप्लिकेशन के जरिए वो भी इनके हाथ लग जाती है जिसके बाद में यह उसी के जरिए ब्लैकमेल करते हैं।

images%20(33)

 कई लोगों के साथ में ऐसा हुआ हैं कि उन्होंने 10,000 रूपये का लोन लिया है लेकिन पीछा एक लाख रुपये से देकर छुड़वाया कि हमारी प्राइवेट इमेज और वीडियो हमारे किसी कॉन्ट्रैक्ट्स लिस्ट को मत देना ।आपको यह लोन भी तभी देते है जब आप इन एप्लिकेशन को इंस्टॉल करके इनको सारी परमिशन देते हो लेकिन जब फंसते हो तो लाखों रुपये देकर छूटना पड़ जाता है और इसी चक्कर में कई लोगों ने सुसाइड भी कर लिया है । अब धीरे-धीरे सारी बातें खुलकर सामने आ रही है कि जिन लोगों के फोन में कोई प्राईवेट फोटो या वीडियो नहीं मिलती है उनकी फोटो लेकर फोटोशॉप से एडिट करके यह न्यूड फोटो ( Nude Image ) में बदल देते है और उसके बाद इन्हें ब्लैकमेल किया जाता है ।

images%20(34)

 फिलहाल के लिए तो अभी ऐसी 100 ऐप्लिकेशन पकड़ी गई है, लेकिन किसी को अभी मालूम नहीं होगा कि पीठ पीछे ऐसी हज़ारों एप्लिकेशन चल रही होंगी लेकिन अब गूगल प्ले स्टोर के ऊपर तो आपको ऐसी बहुत सी ऐप्लिकेशन मिल जाएगी।अभी तक दिल्ली , लखनऊ , कर्नाटक, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और कई सारे स्टेट में छापे पड़ रहे हैं जिसमें से 22 लोग पकड़े गए हैं और उसमे दो महिलाएं भी हैं जो कि इस तरीके का काम कर रही थी

289358 dp1

 अभी तक यहां पर जितने लोग पकड़े गए हैं वो कॉल सेंटर में काम करने वाले लोग थे । उनको चीन से डाटा मिलता था कि इन लोगों को इस तरीके से ब्लैकमेल करके पैसे निकलवाने है। यह सभी लोन एप्लीकेशंस चाइनीज थी और इनके सर्वर भी चाइना-हांगकांग बेस्ड ही थे ।अभी दिल्ली में इनका रैकेट पकड़ा गया है तो इन्होंने अब अपना ऑपरेशन दूसरे तरीके से शुरू किया है अब से इनके जो कॉल सेंटर होंगे वह पाकिस्तान , नेपाल , बांग्लादेश के रहेंगे।इसी तरीके की कई सारी एप्लिकेशन अभी भी फैली हुई होंगी जो अभी भी चल रही है तो आपको थोड़ा सा बच के रहना है क्योंकि इनसे लोन लेना तो आसान है लेकिन पीछा छुड़वाना बहुत ज्यादा मुश्किल काम है ।

Leave a Comment