अब बॉयकॉट नथिंग

images%20(1) 1657845182576

दोस्तों आप सभी को मालूम होगा कि नथिंग का फोन 1 लॉन्च हो चुका है जिसकी इनबॉक्सिंग आपने अपने कई सारे फेवरेट यूट्यूबर्स के चैनल्स के ऊपर देख ली होगी लेकिन इसी के ऊपर एक बवाल भी हुआ है जिसकी वजह से ट्विटर पर बॉयकॉट नथिंग ( #BoycottNothing )ट्रेंड कर रहा है और इसको बड़े-बड़े टैक यूट्यूबर्स ही करवा रहे हैं । यही पर बात कर लेते है नथिंग कंपनी के सीईओ कार्ल पाई ( Carl Pei ) की जिन्होंने अपना पहला नथिंग का फोन लॉन्च किया है जिसका लॉन्चिंग इवेंट इतना ज्यादा बड़ा नहीं था और इतना ज्यादा खास भी नहीं था पहले जिस तरह से हाइप क्रिएट हो रही थी उससे लग रहा था कि इसका लॉन्चिंग इवेंट भी आईफोन की तरह ही करेंगे लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ बल्कि इनका गैराज टाइप का अजीब सा सेटअप था और उसी के अंदर से लॉन्चिंग हो गई थी। 

nothing os

अगर इनके फोन का बॉक्स देखे तो उसमें भी चार्जर मौजूद नहीं है लेकिन जिस तरीके का बॉक्स था उसको देखने पर आपको ऐसा लगेगा कि इन्होंने फोन भेजा या ps5 की DVD इसके बॉक्स के अंदर आपको दो केस मिल जायेंगे जिसके अंदर एक बंप केस होगा जोकि किनारों को प्रोटेक्ट करेगा और दुसरा ट्रांसपेरेंट केस भी होगा जोकि पूरे के पूरे फोन को प्रोटेक्ट करेगा । इसकी लॉन्चिंग से अभी तक हमें बस यही देखने को मिल रहा था कि वाइट फोन होगा लेकिन बाद में मालूम चला कि व्हाइट भी है और ब्लैक भी है।दरअसल देखने में ब्लैकवाला ज्यादा अच्छा लग रहा है क्योंकि इसमें जो एलईडी लाइट्स है उनका कॉन्ट्रास्ट सही बन जाता है और व्हाइट के अंदर ज्यादा ब्राइटनेस फैल जाता है।  

images 1657845672016

फोन के अंदर बाकी स्पेसिफिकेशन तो दूसरे फोन के जैसी ही है लेकिन इसका जो एक्स फैक्टर है वह इसके बैक पैनल की एलईडी लाइट और ट्रांसपेरेंट बैकपैनल है हालांकि फोन मिड रेंज वाला है और स्पेसिफिकेशन भी मिड रेंज वाली है लेकिन देखने में प्रीमियम लगता है यही इसका एक्स फैक्टर है और ऊपर से ओएस इतना ज़्यादा क्लीन है जिसके अंदर कोई भी ब्लोटवेयर ऐप आपको मिलने नहीं वाली है। अगर आप इस फोन बैकसाइड में एप्पल का लोगो लगा लेते हो तो यह फोन कमाल ही लगेगा ।बाहर के देशों में कई सारे यूट्यूब फोन को मॉडिफाई जरुर करेंगे।

images%20(2) 1657845671883

 अब बात करते हैं अब बॉयकॉट नथिंग जोकि ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है दरअसल यह कारनामा किया है साउथ इंडिया के टैक यूटुबर ने उसने अपने प्रिंटर से ही एक पेज प्रिंट कर दिया जिसमें लिख था कि नथिंग का फोन साउथ इंडियन लोगों के लिए नहीं है ऐसा उसका मानना है अब उसके बाद में जो उसके व्यूअर थे वह भी भड़क गए।उसके बाद में उसने एक ट्रेंड चला दिया बॉयकॉट नथिंग का जो कि ट्विटर के ऊपर भी ट्रेंड करने लग गया क्योंकि बहुत से साउथ इंडियन यूट्यूबर इसके साथ में जुड़ गए ।यह बॉयकॉट नथिंग इसीलिए चलाया गया क्योंकि इन साउथ इंडियन टैक यूट्यूबर्स को नथिंग की तरफ से कोई रिव्यू यूनिट नहीं मिला था हालांकि हिंदी और इंग्लिश चैनल के बड़े बड़े टैक यूट्यूबर्स को रिव्यू यूनिट दिया गया था जबकि साउथ इंडिया के जो बड़े-बड़े टैक यूट्यूबर्स थे उनको नहीं दिया गया इनको इसी बात का गुस्सा था कि यह अपने रीजनल लैंग्वेज में अपने टैक चैनल को चलाते हैं जैसे तेलगु , तमिल , मलयालम ,या फिर कोई और साउथ इंडियन लैंग्वेज हो गई तो उनको यह रिव्यू यूनिट नहीं मिला था शायद इसी वजह से क्योंकि यह हिन्दी और इंग्लिश नहीं बोलते या फिर अपनी लैंग्वेज मे अपना यूटयूब चैनल चलते है जिसकी वजह से इन्होंने यह सारी चीजें ट्रेंड पर लगा दी ।

images 1657845841893

यहां पर अगर देखा जाएं तो इनकी बात सही भी है क्योंकि नथिंग का फोन तमिलनाडु के अंदर ही मैन्युफैक्चर किया जा रहा और वही के यूट्यूबर्स को इग्नोर किया जा रहा है। बस बड़े-बड़े हिंदी और इंग्लिश के चैनलों को ही दिया जा रहा है अपना रिव्यू यूनिट और और हमें इग्नोर किया गया है क्योंकि हमारी लैंग्वेज हिन्दी और इंग्लिश नहीं है ।लेकिन साउथ इंडियन यूट्यूबर्स को एक बात समझनी चाहिए कि तुम भी गलत कर रहे हो इस तरीके का ट्रेंड चलाकर क्योंकि इस समय यह लोग अपने लिए लड़ कर रहे हैं अभी साउथ इंडिया वाली फाइट चल रही कि साउथ इंडियन को इग्नोर किया गया तो इनको समझना चाहिए कि इंडिया के अंदर 122 लैंग्वेजेस है और कई सारे यूट्यूबर्स वह लैंग्वेज भी बोलते होंगे जो हमें मालूम भी नहीं है जोकि इन 122 में आती है हम सिर्फ हिन्दी और इंग्लिश बोलते है ।

images

अगर यह फाइट लैंग्वेजेस की है तो सबको मिलकर सारी लैंग्वेजेस के बारे में बोलना चाहिए ऐसे नही कि सिर्फ साउथ इंडिया को इग्नोर किया गया तो बस उसकी वजह से यह ट्रेंड चलाया जा रहा है लेकिन हां कुछ बड़े साउथ इंडियन टैक यूट्यूबर्स को नहीं मिली तो उन्होंने अपने व्यूअर्स का फायदा उठाकर ट्रेंड करवा दिया बॉयकॉट नथिंग जबकि अगर सर्च करने बैठोगे तो बहुत सारे ऐसे हिंदी और इंग्लिश यूट्यूबर्स भी निकलेंगे जोकि कैमरा कंपेरिजन करते है उनके पास में इतनी जल्दी फोन आता भी नही उनको तो रिव्यू यूनिट मिलती भी नही है वो अपने पैसे से उस फोन को खरीदते थे और उसके बाद में कैमरा कंपेरिजन करते हैं।उन्होंने तो कभी नहीं कहा कि हमें रिव्यू यूनिट नहीं मिल रही।

 अगर आप नथिंग का लॉन्चिंग इवेंट देखो तो इतना ज्यादा खास भी नहीं था गैरेज के अंदर लॉन्चिंग कर रहे हैं और अभी नई नई कंपनी है तो इनको समझने के लिए थोड़ा टाइम लगेगा कि कहां पर क्या है, किसको रिव्यू यूनिट देना है। इन्होंने पता नहीं कितनी कंट्री के अंदर बड़े बड़े यूट्यूबर्स को यह फोन पकड़ाकर किसी भी तरीके से दिखा दिया होगा कि फोन इस तरीके का है और इसे ख़रीद लो । किसी भी चीज़ को समझने में थोड़ा टाइम लगता है ऐसा नहीं कि हमें नहीं मिली रिव्यू यूनिट तो हम अपने व्यूअर्स का फायदा उठाकर हमारे पास मिलियन ऑफ सब्सक्राइबर्स है हमें कैसे इग्नोर कर दिया तो उन्होंने सोचा कि चलो इसको ट्रेंड करवाते हैं और किसी तरीके से बॉयकॉट नथिंग करके अपनी हाइप क्रिएट कर देते हैं। अगर देखा जाए तो फिर गूगल को भी बॉयकॉट कर देना चाहिए क्योंकि गूगल ने अपनी पिक्सेल सीरीज इंडिया के अंदर इसलिए लॉन्च नहीं करी क्योंकि इनके बस की तो खरीदना ही नहीं है। आज तक वो कभी ट्रेंड होते हुए नहीं देखा लेकिन हां हमे फ्री का रिव्यू यूनिट नहीं मिला तो चलो इसको ट्रेंड करते है ।अगर सभी यूटूबर्स कहने लग जाए कि हमें नहीं रिव्यू यूनिट नहीं मिला तो बवाल ही हो जाएगा क्योंकि नई कम्पनी है तो किसी भी चीज़ को समझने में थोड़ा टाइम तो लगता है ।

Leave a Comment